Pratha Pratigya

प्रथा प्रतिज्ञा

न्यूज रिपोर्ट राकेश कुमार

पशु चिकित्सालय में नही पशु चिकित्सक,चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के भरोसे चिकित्सालय

ऊंचाहार,रायबरेली।ब्लॉक ऊंचाहार व ब्लॉक रोहनिया ब्लाक के 70 ग्राम पंचायतो के अन्तर्गत तीन पशु चिकित्सालय है, जिसमे कस्बे में राजकीय पशु चिकित्सालय जबकि गंगा कटरी गांव तीरका पुरवा मजरे खरौली व बाबूगंज में अलग अलग पशु चिकित्सालय बने है।
वही मौसम के बदलते हालात के कारण मवेशियों में गला घोंटू बीमारी ने भी अपने पांव पसार दिए हैं। ऐसी हालत में इतना बड़ा क्षेत्र होने के बावजूद तीन अस्पतालो में केवल दो ही चिकित्सकों की तैनाती है, जिसकी वजह से मवेशियों के इलाज में कठिनाई हो रही है।
कस्बे के ब्लाक परिसर में बने राजकीय पशु चिकित्सालय में तैनात रहे चिकित्सक का तबादला सात वर्ष पूर्व हुआ था जब से
यहां किसी की तैनाती नही हुई है और
यह अस्पताल फार्मासिस्ट राजेश व चतुर्थश्रेणी कर्मचारी गनेश के सहारे संचालित हो रहा है।
वही गंगा कटरी गांव पूरे तीर स्थिति पशु चिकित्सालय खरौली में पशु चिकित्सक भारत भूषण व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी सुशील कुमार श्रीवास्तव की तैनाती है। वही बाबूगंज पशु चिकित्सालय में डा अर्चना व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संतोष की तैनाती है। वही स्थानीय लोगो ने आरोप लगाया है कि चिकित्सक अस्पताल में बहुत कम आते हैं, चतुर्थ श्रेणी कर्मी ही अस्पताल को संचालित करते हैं।
गांव में गला घोटू की बीमारी दस्तक दे रही है। जिसके टीका अभी तक नही लगे हैं, गांवो के पशुओ को लंपी का टीका तक नही लगाया गया है। वही गौशालाओ तक में टीका लगाने की जगह कीटनाशक दवा का छिड़काव किया गया है। एसडीएम आशीष मिश्रा ने बताया कि प्रकरण में स्टाफ के बढ़ोत्तरी के लिए संबंधित विभाग के उच्चाधिकारियो को पत्र लिखा जाएगा टीका लगाने की टीम गांव गांव भेजने के सदंर्भ में भी उनको अवगत करवाया जाएगा।

8 thoughts on “पशु चिकित्सालय में नही पशु चिकित्सक,चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के भरोसे चिकित्सालय”

Leave a Reply

Elon Musk paid $44 Billion Dollar to Takeover Twitter… Chelsea ready to send Gabriel Slonina away on-loan👇👇 India Won by 4 Wickets