पुतिन की सेना ने दी विद्रोह की
Pratha Pratigya

यूक्रेन से युद्ध के बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के लिए मुश्किलें खड़ी होती नजर आ रही हैं। बताया जा रहा है कि रूसी सेना ने पुतिन को विद्रोह की धमकी दे दी है। दरअसल, रूसी सैनिकों ने व्लादिमीर पुतिन के नाम एक वीडियो जारी कर कहा कि हम दुश्मन से लड़ने से पहले खतरनाक ठंड का जोखिम उठा रहे हैं। पुतिन के सैनिकों ने कहा है पर्याप्त राशन और हथियार के बिना माइनस 25 डिग्री सेल्सियस में लड़ना असंभव है। हमलोग लड़ाई से पहले ही बर्फ में जम जाएंगे।

रूसी सैनिकों ने बयां किया अपना दर्द
वहीं पश्चिमी अधिकारियों ने भी पुष्टि की है कि रूस सैन्य उपकरणों और राशन की कमी से जूझ रहा है, जिससे सैनिकों का मनोबल और प्रभावी ढंग से आगे बढ़ने की क्षमता प्रभावित हो रही है। खराब जीवन स्तर के खिलाफ खड़े होकर, सैनिकों ने पुतिन से व्यक्तिगत रूप से उनके द्वारा उठाए गए मुद्दों को संबोधित करने की मांग की। वीडियो में दिख रहे दो दर्जन से अधिक सैनिकों की ओर से बोलते हुए एक रूसी सैनिक ने कहा कि यह अब माइनस 25 डिग्री है। हमें यहां बर्फ में रहना है। इसलिए राशन और हथियार की पूरी व्यवस्था की जाए। रूसी सैनिकों ने नेतृत्व पर भी सवाल उठाया। सैनिकों ने कहा कि हमारा नेतृत्व हमें धमकाते रहता  है। ऐसे माहौल में काम करना मुश्किल होगा। स्थिति को सुधारने की जरूरत है।

कमांडर के रवैया से परेशान रूसी सैनिक
रूसी सैनिकों ने कहा है कि हमारा कमांडर हमारी मजबूरी समझने के लिए तैयार नहीं है। जब हम कहते हैं कि और अधिक राशन और हथियार उपलब्ध कराएं तब वह हाथ खड़ा कर देते हैं और कहते हैं इसी से काम चलाना पड़ेगा। दुश्मन से लड़ने से पहले ही हमारी कंपनी यहीं खत्म हो जाएगी। 

अब हम वरिष्ठों के आदेशों की अनदेखी करने पर मजबूर होंगे: रूसी सैनिक
पुन: प्रवर्तन की विनती करते हुए, एक सैनिक ने कहा कि हमारी साथ सैनिक अब अपने वरिष्ठों के आदेशों की अनदेखी करने पर मजबूर होंगे।  उन्होंने कहा कि आवश्यक संसाधन होने के बाद ही सैनिक अग्रिम पंक्ति में लौटेंगे।उन्होंने  कहा कि बाहर का तापमान  माइनस 20 डिग्री सेल्सियस से माइनस 25 डिग्री सेल्सियस है। इसलिए सभी उम्मीदें आप पर हैं बहनों और भाइयों इस जानकारी को अधिक से अधिक फैलाएं। मारे पास बहुत कम समय है। हमारी एकमात्र आशा आप हैं। 


Pratha Pratigya

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *