Pratha Pratigya

प्रथा प्रतिज्ञा

न्यूज रिपोर्ट राकेश कुमार

प्रधान ने मनरेगा से बदली गांव दशा

ऊंचाहार,रायबरेली।लगन और ईमानदारी से काम किया जाए तो सरकारी योजनाओं से गांवो का कायाकल्प हो सकता है। गांवो को शहर की सुविधाओं और विकास के मुक़ाबिल खड़ा किया जा सकता है। इस हकीकत को समझने के लिए रोहनिया ब्लाक के गांव गंगेहरा गुलाल गांव आना होगा।
रोहनिया ब्लाक की अधिकांश दलित आबादी वाला गंगेहरा गांव का विकास आज अन्य गांवों के लिए मिसाल है। गांव की गलियां हो या सड़क , नालियां हो या नाला हर तरंग एक सुसज्जित और स्वच्छता नजर आ रही है। गांव का पंचायत भवन किसी शानदार कार्यालय जैसा है। गांव के बिजली पोल पर स्ट्रीट लाइटें पूरे गांव को जगमग करती है।ग्राम प्रधान अजय कुमार सरोज बताते है कि गांव के लोग रोजगार के लिए एनटीपीसी और शहरों में काम करने जाते थे। अब उनको गांव में ही रोजगार दिया जा रहा है। चालू वित्तीय वर्ष में ही गांव के कुल 125 परिवारों को रोजगार दिया जा चुका है। शासन की विभिन्न योजनाओं से लाभ दिलाने के लिए ग्रामीणों को हर सहायता गांव में ही सुलभ कराई गई है। जन्म , मृत्य प्रमाण पत्र , परिवार रजिस्टर की नकल समेत अन्य कागजात गांव में भी उपलब्ध कराया जा रहा है।

Leave a Reply

Elon Musk paid $44 Billion Dollar to Takeover Twitter… Chelsea ready to send Gabriel Slonina away on-loan👇👇 India Won by 4 Wickets