Pratha Pratigya

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गृह राज्य गुजरात में एक एंबुलेंस को रास्ता देने के लिए अपना काफिला रुकवा दिया। पीएम मोदी शुक्रवार को अहमदाबाद से गांधीनगर जा रहे थे।
मोदी को एक रोड पर एंबुलेंस रुकी नजर आई, उन्होंने तुरंत अपने सुरक्षा कर्मियों को अपना काफिला रोक कर एंबुलेंस को निकलने देने का निर्देश दिया। इस दौरान कुछ देर उनके काफिले के वाहन रुके रहे। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। मोदी अहमदाबाद में सभा के बाद गांधीनगर की ओर जा रहे थे। 

पीएम ने वंदे भारत को दिखाई हरी झंडी
पीएम मोदी ने आज गांधीनगर से मुंबई के बीच चलने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई। वे इस ट्रेन में सवार होकर गांधीनगर से अहमदाबाद के कालूपुर स्टेशन तक गए। 

वैश्विक व्यापार मांग के अनुरूप नए शहरों का निर्माण कर रहे : मोदी
वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के नए को हरी झंडी दिखाने और अहमदबाद मेट्रो रेल के पहले चरण के उद्घाटन के बाद एक कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा कि देश में ऐसे नए शहरों का निर्माण किया जा रहा है जो वैश्विक व्यापार मांग के अनुरूप हों। इसके साथ ही पुराने शहरों में सुधार और उनके विस्तार पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। उन्होंने गांधीनगर-अहमदाबाद की तर्ज पर देश में जुड़वां नगर विकसित किए जाने पर जोर दिया। जुड़वां नगर कैसे विकसित किए जाते हैं, इसका बेहतर उदाहरण गांधीनगर और अहमदाबाद हैं। ऐसे शहरों में न्यूयॉर्क-न्यू जर्सी की अक्सर चर्चा होती है, ऐसे में भारत कैसे पीछे रह सकता है। 

साढ़े पांच घंटे में मुंबई पहुंचेगी वंदे भारत
प्रधानमंत्री ने कहा कि अहमदाबाद और मुंबई के बीच शुरू हुई वंदे भारत ट्रेन देश के दो बड़े शहरों के बीच सफर को आरामदायक भी बनाएगी और दूरी को भी आठ घंटे से घटा कर साढ़े पांच घंटे कर देगी। शताब्दी ट्रेन भी छह से सात घंटे तक का समय लेती है, लेकिन वंदे भारत साढ़े पांच घंटे में अहमदाबाद से मुंबई पहुंचा देगी।

अहमदाबाद मेट्रो में की सवारी
पीएम मोदी ने आज ही थलतेज और वस्त्राल के बीच अहमदाबाद मेट्रो रेल परियोजना के पहले चरण का भी उद्घाटन किया और इसमें सफर भी किया।प्रधानमंत्री ने मेट्रो ट्रेन के पूर्वी-पश्चिमी गलियारे के कालूपुर स्टेशन पर परियोजना का उद्घाटन किया। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल, सांसद सी आर पाटिल और किरीट सोलंकी भी उनके साथ थे।

गुजरात मेट्रो रेल निगम (जीएमआरसी) ने एक बयान में कहा कि थलतेज और वस्त्राल के बीच 21 किलोमीटर लंबे इस गलियारे के बीच 17 स्टेशन हैं। इस गलियारे में चार स्टेशनों के साथ 6.6 किमी का भूमिगत खंड भी है। मोदी ने 4 मार्च 2019 को परियोजना के पहले चरण के एक हिस्से का उद्घाटन किया था। इस हिस्से में वस्त्राल से अपैरल पार्क के बीच 6.5 किलोमीटर की दूरी को मेट्रो से जोड़ा गया था। इस परियोना को 2014 में मंजूरी मिली थी। जीएमआरसी ने कहा कि मेट्रो का किराया पांच रुपये से 15 रुपये के बीच होगा।

By admin

One thought on “पीएम ने काफिले को रुकवाकर एंबुलेंस को दिया रास्ता, अहमदाबाद से गांधीनगर जा रहे थे मोदी”

Leave a Reply

Elon Musk paid $44 Billion Dollar to Takeover Twitter… Chelsea ready to send Gabriel Slonina away on-loan👇👇 India Won by 4 Wickets