Pratha Pratigya

प्रथा प्रतिज्ञा

न्यूज रिपोर्ट राकेश कुमार

भूमि एवं जल संरक्षण की बैठक सम्पन्न

रायबरेली।जिलाधिकारी श्रीमती माला श्रीवास्तव ने कहा कि जनपद में भूमि एवं जल संरक्षण के कार्य स्थायी प्रकृति के होने चाहिए, इस प्रकार के कार्य नहीं किये जाने चाहिए कि उनका प्रभाव कुछ समय के बाद समाप्त हो जाए। उन्होंने कहा कि भूमि एवं जल संरक्षण का कार्य कृषि की बुनियादी आवश्यकता है।
जिलाधिकारी श्रीमती माला श्रीवास्तव ने बचत भवन सभागार में जिला भूमि एवं जल संरक्षण समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रही थीं। उन्होंने बैठक में कहा कि भूमि एवं जल संरक्षण के कार्यो का नियमित रूप से सत्यापन किया जाए। उन्होंने बैठक में आये हुए किसानों से पूछा कि उनके क्षेत्रों में भूमि संरक्षण का कार्य किस प्रकार किया जा रहा है, किसानों ने उन्हें अवगत कराया कि कार्य नियमानुसार किया जा रहा है। बैठक में प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, पं0 दीन दयाल उपध्याय किसान समृद्धि योजना, मनरेगा एवं अन्य चयनित योजनाओं से सम्बन्धित कार्यो पर विचार विमर्श किया गया। बैठक में अवगत कराया गया कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजनान्तर्गत जनपद में कुल 11 तालाबों का निर्माण कराया जाना प्रस्तावित है। बैठक में जनपद के जलभराव वाले ग्रामीण क्षेत्रों के प्रस्तावित उपचार, समोच्य रेखीय बांध, माजिर्नल/पेरीफेरल बांध, समतलीकरण एवं अवरोध बांध, फसलोत्पादन/वृक्षारोपण के कार्य कराया जाने सम्बन्धित विषयों पर भी चर्चा हुई। बैठक में उपकृषि निदेशक, जिला भूमि संरक्षण अधिकारी सहित अन्य अधिकारी ने भाग लिया।

Leave a Reply

Elon Musk paid $44 Billion Dollar to Takeover Twitter… Chelsea ready to send Gabriel Slonina away on-loan👇👇 India Won by 4 Wickets