Pratha Pratigya

कुछ दिनों पहले भोपाल में एक विरोध प्रदर्शन के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ आपत्तिजनक नारे लगाए गए थे। साथ ही उनके मां के खिलाफ अश्लील भाषा का प्रयोग किया गया था। अब इस मामले में मुख्यमंत्री ने पीड़ा व्यक्त की है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में एक विरोध प्रदर्शन के दौरान करणी सेना के एक कार्यकर्ता द्वारा आपत्तिजनक नारों के इस्तेमाल पर अपनी पीड़ा व्यक्त की है। उन्होंने रविवार को इसे लेकर ट्वीट किया। ट्वीट्स की एक श्रृंखला में उन्होंने यह भी सूचना दी कि करणी सेना के कार्यकर्ता ने अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगी। साथ ही उन्होंने ट्वीट में यह भी कहा कि वह अपनी मां से क्षमा के लिए प्रार्थना करते हैं।

शिवराज सिंह

शिवराज सिंह चौहान ने अपने ट्वीट में लिखा, मुख्यमंत्री की आलोचना का अधिकार है। लेकिन जिस मां का स्वर्गवास कई साल पहले मेरे बचपन में ही हो गया था, उनके लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल अंतरात्मा को व्यथित कर गया। उन्होंने अपने ट्वीट में आगे लिखा, इस मामले में क्षमा मांगी गई है, मैं भी अपनी मां से प्रार्थना करता हूं कि वह जहां भी हो अपने इन बच्चों को क्षमा करें और मेरे मन में भी अब उनके लिए कोई गिला शिकवा नहीं है। आप सब अपने हैं और अपना भी कोई गलती कर दे तो उसको अपने से अलग नहीं किया जा सकता।

उन्होंने अपने ट्वीट में यह भी लिखा, मैं सबसे स्नेह करता हूं। सबके कल्याण के लिए प्रतिबद्ध हूं और समाज के सभी वर्गों के विकास का काम किया है और आगे भी करता रहूंगा। बता दें कि कुछ दिनों पहले राजधानी भोपाल में एक विरोध प्रदर्शन के दौरान मुख्यमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक नारे लगाए गए थे। इसके बाद बीते गुरुवार को इस मामले में हरियाणा के एक 30 साल के करणी सेना कार्यकर्ता को गिरफ्तार किया गया था।

मालूम हो कि करणी सेना द्वारा चार दिवसीय विरोध प्रदर्शन में लगभग 21 मांगों को रखा गया था। इसमें एससी/एसटी (अत्याचार निवारण) अधिनियम से संबंधित मामलों में जांच के बिना गिरफ्तारी नहीं करना, एक परिवार को केवल एक बार आरक्षण प्रदान करना शामिल था। इससे पहले शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के माफी मांगने के कारणों की एक सूची पेश की थी। उन्होंने एक जनसभा में कहा था कि कमलनाथ जी माफी मांगिए उन किसानों से जिन्हें कर्ज माफी के नाम पर डिफॉल्टर बना दिया। कमलनाथ जी को माफी अभियान चलाना चाहिए।


Pratha Pratigya

By admin