Pratha Pratigya

adipurush controversy : मनसे ने ओम राउत निदेशित ‘आदिपुरुष’ के पक्ष में अपनी राय दी है। इस फिल्म के हाल ही में जारी टीजर को लेकर विवाद छिड़ गया है। भाजपा ने चेतावनी दी है कि फिल्म को जारी नहीं होने दिया जाएगा। भाजपा के इस बयान की मनसे ने निंदा की है। 

फिल्म ‘आदिपुरुष’ को लेकर चल विवाद के बीच राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) इसके समर्थन में खुलकर सामने आ गई है। पार्टी ने कहा है कि वह भाजपा की गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेगी। मनसे नेता अमेय खोपकर ने भाजपा नेता राम कदम से सवाल किया कि क्या उन्होंने कभी रावण को देखा है? क्या वे अपनी जेब में रावण का फोटो लेकर चलते हैं?

मनसे ने ओम राउत निदेशित ‘आदिपुरुष’ के पक्ष में अपनी राय दी है। इस फिल्म के हाल ही में जारी टीजर को लेकर विवाद छिड़ गया है। भाजपा ने चेतावनी दी है कि फिल्म को जारी नहीं होने दिया जाएगा। भाजपा के इस बयान की मनसे ने निंदा की है। 

ओम राउत हिंदुत्ववादी
खोपकर ने कहा कि आपको फिल्म निदेशकों को आजादी देना चाहिए और आजादी का यह मतलब भी नहीं है कि वे देवी देवताओं का अनादर करें। मनसे नेता ने कहा कि वे इस फिल्म को लेकर उठे विवाद का विरोध करते हैं और आदिपुरुष फिल्म का समर्थन करते हैं। मनसे नेता ने दावा किया कि ओम राउत हिंदुत्ववादी हैं और वे हिंदुओं की भावना का अनादर नहीं कर सकते। पूर्व में राउत ने छत्रपति शिवाजी महाराज के इतिहास पर लेजर शो तैयार किया था। 

गंदी राजनीति कर रहे हैं भाजपा नेता
खोपकर ने भाजपा नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि मात्र टीजर देखकर आप गंदी राजनीति कर रहे हैं, फिल्म रोकने की बात कह रहे हैं। राजनीति से परे जाकर सोचना होगा। मनसे इस तरह की गंदी राजनीति को मंजूर नहीं करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि यह कहना आसान है कि हम फिल्म का विरोध करेंगे, लेकिन इस फिल्म से 400-500 लोगों को पेट भरेगा। मनसे सभी धर्मों का सम्मान करती है, भले वह हिंदू हो या मुस्लिम। आप पहले फिल्म देखिए फिर विरोध के बारे में सोचिए। यह फिल्म जारी होगी और मनसे भाजपा की किसी गुंडागर्दी को बर्दाश्त नहीं करेगी। 

अयोध्या में जारी हुआ था टीजर
अभिनेता प्रभास की इस फिल्म का टीजर 2 अक्तूबर को अयोध्या में जारी किया गया था। यह जारी होते ही राजनीतिक विवाद का मुद्दा बन गया। महाराष्ट्र के भाजपा नेता राम कदम ने इसे लेकर कहा कि इस तरह की फिल्में बनाने वालों के खिलाफ इंडस्ट्री में बैन होना चाहिए। कदम ने इस फिल्म को लेकर उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि ये दल हिंदुत्व और हिंदुओं को नीचा दिखाने में जुटे हैं।  उधर, मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और विश्व हिंदू परिषद ने भी टीजर पर आपत्ति जताई है। 

सैफ अली बने रावण, लोग बता रहे तालिबानी छवि
‘आदिपुरुष’ में अभिनेता सैफ अली खान रावण के किरदार में है। लोगों में इस बात को लेकर गुस्सा है कि रावण को फिल्म में तालिबानी छवि में दिखाया गया है, जबकि वह प्रकांड विद्वान था। सैफ अली रावण के किरदार के रूप में तालिबानी और फिल्म में हनुमान को चमड़े के बेल्ट में दिखाया गया है। ‘महाभारत’ धारावाहिक में दुर्योधन की भूमिका निभाने वाले अभिनेता पुनीत इस्सर ने भी इस पर आपत्ति प्रकट की है। इस्सर ने कहा कि रावण 4 वेदों और 6 शास्त्रों का ज्ञाता था, उससे बड़ा महान शिव भक्त कोई हुआ ही नहीं और अगर उसके माथे पर तिलक नहीं तो वो रावण हुआ ही नहीं।

लखनऊ की अदालत में परिवाद
उधर, लखनऊ में एक वकील ने कोर्ट में फिल्म के खिलाफ परिवाद दायर किया है। इसमें शिकायत की गई है कि इसमें हिंदू देवताओं को गलत तरीके से चित्रण किया गया है। इसलिए आदिपुरुष के अभिनेताओं और निर्माताओं के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने का निर्देश दिया जाए। 

Leave a Reply

Elon Musk paid $44 Billion Dollar to Takeover Twitter… Chelsea ready to send Gabriel Slonina away on-loan👇👇 India Won by 4 Wickets