August 16, 2022

Pratha Pratigya

लिखेंगे हम, पढ़ेंगे आप

सरकार तुंहर द्वार कार्यक्रम अंतर्गत 12 शिविरों के माध्यम से जिले के 83 हजार से अधिक नागरिक राशन, पेंशन, किसान किताब, वन अधिकार , ड्राइविंग लाइसेंस आदि से हुए लाभान्वित ।

1 min read

सरकार तुंहर द्वार कार्यक्रम अंतर्गत 12 शिविरों के माध्यम से जिले के 83 हजार से अधिक नागरिक राशन, पेंशन, किसान किताब, वन अधिकार, ड्राइविंग लाइसेंस आदि से हुए लाभान्वित ।

चार मेगा हेल्थ शिविरों से 10 हजार से अधिक लोगो का हुआ निःशुल्क स्वास्थ्य जांच एवं ईलाज , निःशुल्क बीपी, शुगर कैम्पों के आयोजन से 60 हजार से अधिक लोगो का हुआ बीपी, शुगर जांच ।

सी-मार्ट और रूरल इंडस्ट्रियल पार्क से महिला समूहों का होगा आर्थिक विकास, महिलाओं को मिलेगा रोजगार कलेक्टर रानू साहू के मार्गदर्शन में पिछले एक वर्ष में कोरबा जिले में जनहित के हुए विभिन्न कार्य ।

छत्तीसगढ़ / कोरबाः- कोरबा कलेक्टर रानू साहू के मार्गदर्शन एवं कुशल नेतृत्व में कोरबा जिले में पिछले एक वर्ष में जनहित के विभिन्न कार्यो का क्रियान्वयन हुआ है । एक ओर पिछले एक वर्ष के दौरान जिले में आम नागरिकों की सहुलियतो और सुविधाओं में वृद्वि हुई है । वही दूसरी ओर जिला प्रशासन की विशेष पहल से जनता को राशन, पेंशन, आय, जाति प्रमाण पत्र भी सरलता से प्राप्त हुई हैं , कलेक्टर साहू की स्वास्थ्य, शिक्षा एवं नागरिकों के हित में काम करने की मंशा के फलस्वरूप जिले में सरकार तुंहर द्वार कार्यक्रम, वृहद स्वास्थ्य शिविर, निःशुल्क बीपी, शुगर जांच शिविर, नये स्वामी आत्मानंद स्कूलों की स्वीकृति, सी-मार्ट एवं रूरल इंडस्ट्रियल पार्क की स्थापना से जिले वासियों को निश्चित रूप से लाभ हुई है। कलेक्टर श्रीमती साहू की विशेष पहल सरकार तुंहर द्वार कार्यक्रम के तहत् अब तक जिले में 12 शिविरों का आयोजन किया जा चुका है । इनमें से आठ ग्रामीण क्षेत्रों और चार नगर निगम कोरबा क्षेत्र में आयोजित किए गये है । कलेक्टर की विशेष पहल से आम शिविरों की तुलना में सरकार तुंहर द्वार शिविर में अधिकारी-कर्मचारी नागरिकों के घर जाकर शिविर के 15 दिन पहले घर-घर सर्वे करके उनकी समस्याओं से संबंधित आवेदन प्राप्त किए । प्राप्त आवेदनों का निराकरण करने के पश्चात शिविर स्थल में ही सेवाओं से नागरिकों को लाभान्वित किया गया। इसके माध्यम से 83 हजार से अधिक नागरिकों को राशन कार्ड, वन अधिकार, नामान्तरण, बंटवारा, सीमांकन, आर्थिक सहायता, जॉब कार्ड, किसान क्रेडिट कार्ड, बैंक लिंकेज, महिला कोष ऋण वितरण, दिव्यांगता प्रमाण पत्र, ई श्रम पंजीयन, आयुष्मान कार्ड, बीज एवं कृषि उपकरण वितरण, आय, जाति प्रमाण पत्र आदि से लाभान्वित किया गया है । सरकार तुंहर द्वार शिविर से जिले वासियों को आसानी से राजस्व प्रकरणों का निराकरण करके लाभान्वित किया गया । साथ ही किसान किताब और किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान करके किसानों को खेती किसानी करने के लिए आसानी से खाद-बीज और कृषि ऋण देने में सहुलियत प्रदान किया गया । कलेक्टर साहू की विशेष पहल से इन शिविरों में ड्राइविंग लाइसेंस भी मौके पर ही बनाया गया । परिवहन विभाग ने अपने संपूर्ण तकनीकी अमलों और जरूरी सामानों के साथ शिविर स्थल में मौजूद रहकर लोगों के लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनाने में काफी सहुलियत प्रदान की । अभी तक शिविर के माध्यम से लगभग एक हजार से अधिक ड्राइविंग लाइसेंस बनाये जा चुके है । आसान प्रक्रिया और चंद घण्टो में लाइसेंस मिलने से प्रोत्साहित होकर महिलाएं भी शिविर स्थल में लाइसेंस बनवाने आये। शिविर के माध्यम से लगभग 300 महिलाओं का ड्राइविंग लाइसेंस बनाया जा चुका है , कलेक्टर साहू की तत्परता और संवेदनशीलता के कारण पिछले एक वर्ष में जिलेवासियों को मूलभूत सुविधाओं की सेवा आसानी से प्राप्त हुई ।

See also  शिक्षा में नवाचार जवाहर नवोदय कोचिंग क्लास पढ़ने में बच्चे उत्साहित

मेगा हेल्थ कैम्प से 10 हजार से अधिक लोगों का हुआ निःशुल्क स्वास्थ्य जांच और ईलाजः- कलेक्टर साहू की नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं और जरूरतमंदो को निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने की मंशानुसार जिले में मेगा हेल्थ कैम्प का आयोजन किया गया। इन कैम्पों में जिले और जिले से बाहर के विशेषज्ञ डाक्टरों द्वारा मरीजों का ईलाज किया गया। दूरस्थ क्षेत्रों में रहने के कारण बडे अस्पतालों मे जाकर ईलाज कराने नही जा सकने के कारण को समझते हुए कलेक्टर ने हेल्थ कैम्प का आयोजन किया। इन कैम्पों में भारी संख्या में लोगों ने आकर सेवाओं का लाभ उठाया। पिछले एक वर्ष में चार मेगा हेल्थ कैम्प के माध्यम से 10 हजार से अधिक लोगों का स्वास्थ्य जांच और ईलाज किया गया। साथ ही गंभीर बीमारियों से ग्रस्त मरीजो की पहचान कर उनके बेहतर ईलाज के लिए जिला प्रशासन की मदद से उच्च अस्पतालों मे रिफर किया गया। स्वास्थ्य शिविर में निःशुल्क दवाईयों के वितरण से भी लोग लाभान्वित हुए।

( निःशुल्क बीपी, शुगर जांच कैम्प से 50 हजार से अधिक नागरिक हुए लाभान्वित ) -:- लोगो में बीपी, शुगर की बीमारी के प्रति जागरूकता लाने और समय रहते बीमारी की पहचान कर ईलाज शुरू करने के उद्देश्य से कलेक्टर श्रीमती साहू की पहल से निःशुल्क बीपी, शुगर जांच कैम्प का आयोजन किया गया। जिले में आयोजित दो कैम्पों के माध्यम से लगभग 50 हजार से अधिक लोगो का बीपी, शुगर जांचा गया। साथ ही जांच उपरांत बीपी शुगर असामान्य होने पर लोगों को जरूरी दवाइयां और बेहतर स्वास्थ्य के लिए आवश्यक सलाह भी दी गई।

See also  अरदा में होगा कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन व पिवर्ग नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम का आयोजन कल ।

( सी-मार्ट की स्थापना और रिपा क्षेत्र के विकास से ग्रामीण महिलाओं को मिलेगा आर्थिक बल ):- जिले की स्व सहायता समूह की महिलाओं को आर्थिक बल देने तथा उनके द्वारा बनाये जा रहे स्थानीय उत्पादों को बेचने के लिए जगह प्रदान करने के उद्देश्य से कोरबा शहर में सी-मार्ट का स्थापना किया गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशानुसार सभी जिलों में सी-मार्ट स्थापित करने के निर्देश उपरांत कलेक्टर साहू ने कोरबा शहर में सी मार्ट स्थापित करने के लिए त्वरित कार्रवाई की। महिलाओं के द्वारा बनाए गए उत्पाद के बिक्री के लिए जगह उपलब्ध कराने के लिए जिला मुख्यालय में सी-मार्ट की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। ताकि स्व सहायता समूह की महिलाओं को अच्छा बाजार मिल सके जिससे महिलाओं को आर्थिक लाभ हो। इसी प्रकार ग्रामीण महिलाओं को गौठान में विभिन्न आर्थिक गतिविधियों से जोडने के लिए रूरल इडस्ट्रियल पार्क की स्थापना की जा रही है। जिले में अमरपुर और केराझरिया गौठान रिपा क्षेत्र विकसित किया जा रहा है। जिसमें शेड विकसित किया जा रहा है। इन शेड में महिलाएं आजीविका के लिए विभिन्न गतिविधियां संचालित करेंगी। साथ ही महिलाओं को स्वरोजगार से जुडने का अवसर प्राप्त होगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.