June 30, 2022

Pratha Pratigya

लिखेंगे हम, पढ़ेंगे आप

सरकार-तुंहर द्वार कार्यक्रम: लोगो के घरो तक पहुंचकर किया गया समस्याओं का समाधान , घुडदेवा शिविर में चार हजार 684 लोग राश

1 min read

सरकार-तुंहर द्वार कार्यक्रम: लोगो के घरो तक पहुंचकर किया गया समस्याओं का समाधान , घुडदेवा शिविर में चार हजार 684 लोग राशन, पेंशन, आदि सुविधाओं से हुए लाभान्वित ।

निगम क्षेत्र में आयोजित चार समाधान शिविरों में 16 हजार नागरिक हुए लाभांवित, शिविर के पहले आवेदन लेकर समस्याओं का किया गया निराकरण

छत्तीसगढ़ / कोरबा सरकार तुंहर द्वार कार्यक्रम के तहत नगर पालिक निगम कोरबा क्षेत्र में आयोजित चार शिविरों के दौरान 16 हजार नागरिक लाभान्वित हुए, उनकी विभिन्न समस्याओं का समाधान उनके घर द्वार पहुंचकर किया गया। प्राप्त कुल आवेदनों में 95 प्रतिशत आवेदनों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण किया जा चुका है, वहीं शेष आवेदनों के निराकरण की कार्यवाही शीघ्र पूरी की जाएगी। जिला प्रशासन एवं नगर पालिक निगम कोरबा द्वारा सर्वमंगला एवं बांकीमोंगरा जोन के वार्ड क्र. 54 एवं 56 से 67 तक के लिए उच्चतर माध्यमिक विद्यालय घुड़देवा में आज सरकार तुहर द्वार कार्यक्रम के तहत वृहद समाधान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में चार हजार 684 लोग राशन, पेंशन, छात्रवृत्ति, सामाजिक सुरक्षा लाभांश, राजस्व प्रकरणों, फौती, नामांन्तरण आदि सुविधाओं से लाभान्वित हुए। घुड़देवा में आयोजित निगम के अंतिम शिविर में आज महापौर श्री राजकिशोर प्रसाद, कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने पहुंचकर अधिकारियों का मार्गदर्शन किया, हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं के तहत सामग्रियों का वितरण किया गया। इस मौके पर सभापति श्री श्यामसुंदर सोनी, आयुक्त श्री प्रभाकर पाण्डेय, एस.डी.एम. कटघोरा श्री कौशल तेंदुलकर, जनप्रतिनिधि श्री सुरेन्द्रप्रताप जायसवाल के साथ ही निगम की एम.आई.सी. के सदस्यगण, पार्षदगण, एल्डरमेनगण एवं विभिन्न विभागों के अधिकारीगण और नागरिकगण मौजूद रहे। सरकार तुंहर द्वार कार्यक्रम के तहत नगर पालिक निगम कोरबा क्षेत्र में जिला प्रशासन एवं नगर निगम कोरबा के द्वारा 11 मई, 25 मई, 08 जून एवं आज 22 जून को 04 वृहद समाधान शिविरों का आयोजन किया गया। इन सभी 04 समाधान शिविरों में निगम क्षेत्र के 16 हजार से अधिक नागरिक लाभान्वित किए गए, नगर निगम कोरबा सहित जिले के विभिन्न विभागों के अधिकारी कर्मचारियों ने डोर-टू-डोर भ्रमण कर आमजन की समस्याओं को जाना, उनसे आवेदन प्राप्त किया तथा समयसीमा में इन समस्याओं का संतुष्टिपूर्ण निराकरण कराया गया। घुडदेवा में आयोजित शिविर में भारी संख्या मंे पहुंचे संबंधित वार्डाे के नागरिकों को उनके द्वारा प्रस्तुत आवेदनों के संतुष्टिपूर्ण निराकरण व की गई कार्यवाही की जानकारी उन्हें प्रदान की गई, वहीं शासन की विभिन्न योजनाओं के तहत सामग्रियों का वितरण भी हितग्राहियों को किया गया।

See also  डीजल चोरी का कुख्यात आरोपी निगरानी बदमाश हीरा पटेल गिरफ्तार , पूर्व में भी कई मामले में गिरफ्तार हो चुका है आरोपी

इस अवसर पर महापौर श्री राजकिशोर प्रसाद ने शिविर को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य शासन के मंशा के अनुरूप क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों व सभी विभागों के अधिकारी कर्मचारियों के संयुक्त परिश्रम से समाधान शिविरों को अपार सफलता मिली हैं। उन्होने कहा कि लोगो के घर पहुंचकर तथा उनकी समस्याओं से संबंधित आवेदन लेकर समस्याओं का समाधान किया गया। उन्होने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में नागरिकों की समस्याओं का संतुष्टिपूर्ण निराकरण किया गया है, जिसके लिए मैं अधिकारी कर्मचारियों व जनप्रतिनिधियों को बधाई देता हूॅं। इस मौके पर उन्होने विद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया को सरल बनाने, राजस्व संबंधी प्रकरणों का त्वरित निराकरण करने, बिजली बिल व बिजली से संबंधित समस्याओं का संतुष्टिपूर्ण निराकरण कराने, राजीव आश्रय पट्टा वितरण कार्याे में गति लाने, बिना किसी अवरोध के विद्युत आपूर्ति किए जाने सहित अन्य विभिन्न विषयों व विभागों से संबंधित कार्याे में अधिकारियों का मार्गदर्शन किया।

इस अवसर पर कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने अपने उद्बोधन में कहा कि सरकार तुंहर द्वार शिविर के माध्यम से शिविर के 15 दिन पहले ही सर्वे करके लोगो की समस्याओं से संबंधित आवेदन लिये जा रहे है। साथ ही शिविर स्थल में ही नागरिको को राशन कार्ड, पंेशन, किसान किताब, वन अधिकार पट्टा आदि बनाकर दिया जा रहा है। शिविर में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए परिवहन विभाग की पूरी टीम सक्रिय होकर लाइसेंस के लिए आये आवेदनों पर त्वरित कार्यवाही करते हुए तत्काल लर्निंग लाइसेंस बनाकर दिया जा रहा है। उन्होने कहा कि दिव्यांगता प्रमाण पत्र के लिए बार-बार जिला अस्पताल जाने की भी जरूरत नही पड रही है। सरकार तुंहर द्वार शिविर में मौजूद मेडिकल बोर्ड द्वारा मौके पर ही दिव्यांगजनो को दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनाकर दिया जा रहा है। कलेक्टर श्रीमती साहू ने कहा कि प्रत्येक 15 दिन में शहरी क्षेत्र में 01 शिविर एवं ग्रामीण क्षेत्र में 02 शिविर सरकार तुंहर द्वार कार्यक्रम के तहत आयोजित किए जा रहे हैं, इन शिविरों का प्रमुख उद्देश्य आमनागरिकों के घर गांव पहुंचकर उनकी समस्याओं को दूर करना। उन्होने कहा कि जिला प्रशासन का पूरा प्रयास है कि आमजनता को अपने कार्याे हेतु कार्यालयों तक बार-बार न जाने पड़े, घर पहुंचकर उनकी समस्याएं दूर की जाएं ताकि उनके समय, धन व श्रम की बचत हो।

See also  इस राज्य से प्रियंका गांधी को राज्यसभा भेजने की तैयारी, भाजपा ने कहा- कब तक हक मारोगे

समस्याओं का हुआ निराकरण, 4684 लोग हुए लाभान्वित

– घुडदेवा में आयोजित किए गए आज के वृहद समाधान शिविर में विभिन्न समस्याओं, शिकायतों व मांगों से संबंधित 4684 आवेदनों का निराकरण विभिन्न विभागों के माध्यम से किया गया। इसके अंतर्गत नगर पालिक निगम कोरबा के 2299, राजस्व विभाग के 134, खाद्य विभाग के 1000, महिला एवं बाल विकास विभाग के 97, स्वास्थ्य विभाग के 4, क्रेडा के 6, श्रम विभाग के 29, जिला अंत्यावसायी विभाग के 16, मछलीपालन विभाग के 1, कृषि विभाग के 14, विद्युत वितरण कम्पनी के 159, शिक्षा विभाग के 4, समाज कल्याण विभाग के 16, सहकारिता विभाग के 5 आवेदनों का निराकरण करते हुए हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया।

शिविर में विभिन्न विभागों ने लगाए थे स्टाल

 

-शिविर में नगर पालिक निगम कोरबा, खाद्य विभाग, श्रम विभाग, समाज कल्याण विभाग, राजस्व विभाग, विद्युत विभाग, क्रेडा, स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास, कौशल विकास, पुलिस, आबकारी, वन, शिक्षा, सहकारिता, पी.एच.ई., कृषि, पशुधन, मछली पालन, उद्यान, जिला योजना सांख्यिकी, जिला अत्यावसायी विभाग के काउंटर विभिन्न कक्षों में लगाए गए थे तथा संबंधित अधिकारी कर्मचारियों की तैनाती की गई थी, जहॉं पर आवेदकों हितग्राहियों केा उनके द्वारा दिए गए आवेदनों पर निराकरण संबंधी जानकारी दी गयी।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.