Pratha Pratigya

भरूच का एक सोसायटी हुआ मुस्लिम बहुल तो घर बेचने को विवश हुए हिन्दू: जलाराम बापा मंदिर पर लगा ‘बिक्री का बोर्ड’

0 0

गुजरात के भरूच के अति प्राचीन
जलाराम बापा मंदिर पर बोर्ड लगा है यह मंदिर बिकाऊ है

अब आप चौक गए अब आप पूरी सच्चाई जानिए

: भरूच का एक सोसायटी हुआ मुस्लिम बहुल तो घर बेचने को विवश हुए हिन्दू: जलाराम बापा मंदिर पर लगा ‘बिक्री का बोर्ड’

“हर गुरुवार को, जलाराम बापा मंदिर (Jalaram Bapa Temple) में शाम की आरती होती थी। फिर एक दिन शौकत अली ने मंदिर के ठीक सामने एक घर खरीदा। उसने आरती का विरोध करना शुरू किया। धीरे-धीरे सोसाइटी के 28 घरों को मुसलमानों ने खरीद लिया और अब मंदिर में आरती बंद हो गई है। इतना ही नहीं, मंदिर को अब बेचने की भी तैयारी है।” यह कोई कहानी नहीं है बल्कि भरूच से जुड़ा वह कड़वा सच है जो नाम न छापने की शर्त पर हमारे एक सूत्र ने हमें बताया। उन्होंने आगे बताया, “भरूच के कुछ हिस्सों में 2019 में अशांत क्षेत्र अधिनियम लागू किया गया था, लेकिन प्रशासन सहित कुछ लोगों ने इसमें छिपी खामियों का फायदा उठाते हुए कुछ क्षेत्रों में पूरी जनसांख्यिकी (डेमोग्राफी) ही बदल डाला। अब स्थिति यह हो गई है कि हिंदू केवल भरूच के सोनी फलियो (Soni Faliyo) और हाथीखाना (Hathikhana) क्षेत्रों में रह गए हैं। अब वहाँ भी मुश्किल से कोई 20-25 हिंदू परिवार बचे हैं। और वो भी अब यहाँ से अपने घरों को बेचकर और वह इलाका छोड़ देने का फैसला कर चुके हैं।”

See also  नितिन पटेल की एक ना चली! आंख में आंसू लिए बोले- कोई नाराजगी नहीं

मंदिर के ट्रस्टी लोगो ने मुख्यमंत्री से भी ऑनलाइन और रजिस्टर्ड पोस्ट से इस पर दखल देने की मांग किया लेकिन भरूच का प्रशासन चुप है

और अब यदि इस मंदिर में आरती होती है तो आसपास के सैकड़ों मुस्लिम आ करके जबरदस्ती आरती को बंद करवा देते हैं और कहते हैं कि हमारे इस्लाम में हमारे कानों में मंदिर की आरती की आवाज और घंटी की आवाज नहीं आनी चाहिए मजबूरन कई महीनों से इस मंदिर में आरती नहीं हो पा रही है।
जितेंद्र सिंह

Happy
Happy
%
Sad
Sad
%
Excited
Excited
%
Sleepy
Sleepy
%
Angry
Angry
%
Surprise
Surprise
%
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.